INDIA LIVING NEWS

"AAP's doctor" campaign on behalf of AAP party to deal with Karona and black fungus

करोना और ब्लैक फंगस से निपटने के लिए आप पार्टी की तरफ से ” आप का डॉक्टर” मुहिम का आगाज


*पंजाब के लोग सहायता नंबर 782 727 5743 पर काल करके करोना से बचाव तथा इलाज के लिए मदद ले सकते हैं: डा. संजीव शर्मा।
*पंजाब सरकार करोना वैक्सीन को ले कर गंभीर नहीं, सूबे में वैक्सीन की भरी कमी : डा. जसबीर सिंह।
*पंजाब सरकार गंभीर होती तो करोना से हुईं मौतों की गिनती कम होती : डा. शिव दयाल माली।

जालंधर (अनुराग ) : आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब की तरफ से करोना महामारी के मुश्किल समय में सूबे के लोगों को डाक्टरी सहायता देने के लिए “आप का डॉक्टर” मुहिम शुरू की गई है। इस मुहिम के तहत पंजाब वासियों के लिए एक हेल्प लाइन नंबर 782 727 5743 जारी किया गया, जिस पर संपर्क करके कोई व्यक्ति करोना वायरस से बचाव तथा इलाज संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकता है। मंगलवार को आम आदमी पार्टी के मेडिकल विंग की तरफ से की गई प्रेस कांफ्रेंस दौरान विधायक गुरमीत सिंह मीत हेयर, मेडिकल विंग के प्रधान डा. रवजोत, सह प्रधान डा. संजीव शर्मा और डा. चरणजीत सिंह ने “आप का डॉक्टर” मुहिम का आगाज किया।


डाक्टर विंग ने दोष लगाया की कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई वाली कांग्रेस पार्टी की सरकार करोना महामारी से लोगों को बचाने में फेल सिद्ध हुई है। आम आदमी पार्टी पंजाब के लोगों के हर दुख सुख में शामिल है, इस लिए आप के मेडिकल विंग की तरफ से ये विशेष हेल्प मुहिम शुरू की गई है। जिला स्तरीय प्रेस कांफ्रेंस के समय आप के मेडिकल विंग सूबा सह प्रधान डा संजीव शर्मा ने दोष लगाया कि पंजाब सरकार करोना महामारी के खिलाफ वैक्सीन को ले कर गंभीर नहीं, क्योंकि सूबे में वैक्सीन की भारी किल्लत है। अब तक सिर्फ 47.87 लाख टिके 4 महीने में लगे हैं, 28% सेहत वर्कर्स को पहली डोज भी नही लगी। पंजाब के 3 लाख टिके प्रति दिन, 60,000 पर सिमट कर रह गए। 30% ही 45+ कवर हुए अभी तक। उन्होंने सवाल किया की बिना वैक्सीन से लोगों को करोना महामारी से कैसे बचाया जा सकता है?

इसी तरह डा संजीव शर्मा ने कहा की करोना महामारी के साथ साथ ब्लैक फंगस के मामले भी बढ़ रहे हैं। पर सभी को ब्लैक फंगस के प्रभाव से डरने की जरूरत नहीं, क्योंकि सिर्फ कुछ बीमारियों से पीड़ित लोग ही ब्लैक फंगस से प्रभावित हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कैप्टन सरकार ने करोना काल में डाक्टरों, नर्सों तथा पैरा मेडिकल स्टाफ की भर्ती प्रक्रिया शुरू की थी, जो अभी तक मुकमल नही हो सकी।

जब की डा जसबीर सिंह जिला प्रधान डाक्टर विंग ने कहा कि मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी जुमलेबाज़ी करने लगे हुए हैं। एक तरफ मुख्यमंत्री पूरे गांव की तरफ से टीका लगवाने पर 10 लाख रुपए की ग्रांट देने का ऐलान करते हैं, जब की पंजाब सरकार के पास टिके की जरूरत के अनुसार उपलब्धता ही नही हैं। उन्होंने कहा की पंजाब सरकार गंभीर होती तो करोना से हुई मौतों की गिनती कम होती।

डा शिव दयाल माली ने सरकार से मांग की है की 18 से 44 साल की ऊमर के लिए दिल्ली की तर्ज पर टिका मुफ्त लगाया जाए। जिला प्रधान ओलंपियन सुरिंदर सिंह सोढी ने कहा कि पंजाब सरकार अपने अंदुरूनी झगड़े के कारण इसकी तरफ बे परवाह हो गई है। टीका केंद्रों के बाहर भीड़ को रोकना जरूरी है। इस मौके पर डा हरमिंदर बक्शी ज्वाइंट सेक्रेटरी पंजाब, डा राजेश बब्बर स्टेट ज्वाइंट सेक्रेटरी डॉक्टर विंग, सुभाष शर्मा जिला सेक्रेटरी , तरणदीप सनी मीडिया इंचार्ज तथा राजीव आनंद ब्लॉक प्रधान मौजूद थे।

 

 

नोट : उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अधिक जानकारी के लिए मुख्य संपादक से संपर्क करें