INDIA LIVING NEWS

Security beefed up in Jalandhar after tiffin bombs found in Amritsar - Police Commissioner

कमिश्नरेट पुलिस ने सोढल रोड फाईनांसर गुरमीत टिंकू हत्याकांड की गुत्थी सुलझाई


दो आरोपी गिरफ़्तार, जुर्म में इस्तेमाल किए हथियार भी बरामद – गुरप्रीत सिंह भुल्लर

कहा, पुरानी रंज़िश कारण टिंकू की हत्या की गई

जालंधर : कमिश्नरेट पुलिस जालंधर ने आज सोढल रोड के फाईनैंसर गुरमीत सिंह टिंकू के कत्ल केस की गुत्थी को सुलझाते हुए अपराध में शामिल दो आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया है। गिरफ्तार किये गए आरोपियों की पहचान हरप्रीत सिंह उर्फ हैपी मल्ल ईसेवाल गाँव और सुरिन्दर सिंह ममदोट ज़िला फ़िरोज़पुर के तौर पर हुई है। पुलिस कर्मियों ने 32 बोर पिस्तौल और तीन जिंदा कारतूस भी बरामद किये हैं। इस सम्बन्धित और ज्यादा जानकारी देते हुए पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया क गुरमीत सिंह टिंकू की तरफ से प्रीत नगर सोढल रोड में पी.वी.सी. फाईनैंस के नाम पर अपना कारोबार चलाया जा रहा था और 6 मार्च को अमन नगर के पुनीत शर्मा और न्यू गोबिंद नगर ज़िला जालंधर के नरिन्दर शारदा की तरफ से कुछ अनजान लोगों के साथ मिल कर टिंकू पर हमला करते गोलियाँ चला कर मौके से फ़रार हो गए। उन्होनें बताया कि तकनीकी जांच, सी.सी.टी.वी. फुटेज और ख़ुफ़िया ढंग के साथ सी.आई.ए और पुलिस थाना -8 की टीम की तरफ से इस केस में शामिल दो आरोपियों को गिरफ़्तार किया गया। गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि शुरूआती पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि गुरमीत ने घर पर हमला कर पुनीत शर्मा के घर को तोड़ दिया था, जिस पर गुरमीत और दूसरे पर केस दर्ज़ किया गया था। कमिश्नर पुलिस ने बताया कि इसी पुरानी रंज़िश के चलते पुनीत शर्मा और नरिन्दर शारदा की तरफ से गुरमीत को ख़त्म करने की साजिश रची गई और इसमें हैपी कब्ज़ा कर जो पटियाला जेल में बंद था की मदद ली गई। दोनों पुनीत और जीत मल्ल एक दूसरे को जानते थे, क्योंकि वह जेल में मिल चुके थे। पुलिस कमिश्नर ने आगे बताया कि मल्ल ने पुनीत और शारदा की हैपी भुल्लर (जो कि खरड़ कत्ल केस में पी.यो. है), जीता खिलची और सुरिन्दर सिंह ममदोट के साथ कत्ल को अंजाम देने के लिए मीटिंग करवाई गई। उन्होनें बताया कि प्लैनिंग अनुसार सभी आरोपी 6 मार्च को टिंकू के कत्ल से दो दिन पहले यहाँ आए। गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने आगे बताया कि हरप्रीत और सुरिन्दर को पटियाला और फ़िरोज़पुर जेल से लाने उपरांत गिरफ़्तार किया गया है। हरप्रीत पंजाब के अलग -अलग पुलिस थानों में पाँच अपराधिक मामलों का सामना कर रहा है और सुरिन्दर सिंह के ख़िलाफ़ सात केस दर्ज हैं। स.भुल्लर ने बताया कि रिमांड दौरान दोनों आरोपियों से पुनीत, नरिन्दर, जीता और हरप्रीत के बारे में बारीकी से पूछताछ की गई। उन्होनें कहा कि पुलिस टीम अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए छापे मार रही है .

 

नोट : उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अधिक जानकारी के लिए मुख्य संपादक से संपर्क करें