Advert

INDIA LIVING NEWS

Jalandhar Police Commissioner said that night curfew should be strictly implemented in the city

जालंधर पुलिस कमिश्नर ने अमन कानून की स्थिति का लिया जायज़ा , कहा शहर में रात के कर्फ़्यू को सख़्ती से किया जाए लागू


जालंधर :पुलिस कमिश्नर जालंधर श्री गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने अपराधों का जायज़ा लेने के लिए बैठक दौरान अमन कानून की स्थिति का जायज़ा लिया। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि इस मीटिंग दौरान अनेकों मुद्दों जैसे कि संवेदनशील स्थानों पर सुरक्षा प्रबंधों, पैट्रोलिंग को बढ़ाने, शहर में रात समय कर्फ़्यू को सख्ती के साथ लागू करने और एन.डी.पी.एस. एक्ट के अंतर्गत दोषियों की जायदादों ज़ब्त करने संबंधी विस्तार के साथ विचार विमर्श किया।

श्री भुल्लर ने बताया कि जबसे कोविड -19 के मामलों में फिर से विस्तार होना शुरू हुआ है, तो शहर में रात के कर्फ़्यू को सख्ती के साथ लागू करने और कोविड संबंधी आदेशों की पालना करवाना समय की ज़रूरत है। उन्होनें कहा कि कोविड से बचाव के लिए सरकार के आदेशों जैसे मास्क पहनने और सामाजिक दूरी को बनाए रखने आदि का उल्लंघन करने वालों ख़िलाफ़ सख्त कार्यवाही की जायेगी।शहर में अमन कानून की स्थिति का जायज़ा लेते हुए पुलिस कमिश्नर ने सभी फील्ड अधिकारियों को कहा कि लोगों और संवेदनशील स्थानों पर सुरक्षा प्रबंधों को बढ़ाया जाये। उन्होनें आगे आदेश दिए कि ज़मानत पर बाहर आए दोषियों पर तीखी नजर रखने के इलावा शहर में रात समय पैट्रोलिंग को बढ़ाया जाये। उन्होनें एस.एच.ओस को कहा कि ऐसे दोषियों की सूची बनाई जाये और उनकी गतिविधियों पर बारीकी के साथ नज़र रखी जाये।

इस अवसर पर दूसरों के इलावा डी.सी.पी. गुरमीत सिंह, नरेश डोगरा, ए.डी.सीपी. जगजीत सरोआ, ए.सी.पी. विमलकांत और कमिश्नरेट पुलिस से सबंधित समूह एस.एच.ओस उपस्थित थे।

 

नोट : उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अधिक जानकारी के लिए मुख्य संपादक से संपर्क करें