INDIA LIVING NEWS

Kusum, the daughter of Jalandhar from Punjab, who was selected for the National Bravery Award, also clashed with Snatcher when she was cut off.

National Bravery Award के लिए चुनी गई पंजाब के जालंधर की बेटी कुसुम, हाथ कटने पर भी स्नैचर से भिड़ गई थी


जालंधर ( अनिल ): 30 अगस्त, 2020 को दीन दयाल उपाध्याय नगर में दातर लिए मोबाइल स्नैचर से भिड़कर उसे दबोचने वाली कुसुम को राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार के लिए चुना गया है। 15 साल की जालंधर की बेटी की बहादुरी को सलाम करते हुए भारतीय बाल कल्याण समिति (Indian Council of Child Welfare) ने उसे इस अवार्ड से पुरस्कृत करने का फैसला लिया है। कुसुम को यह पुरुस्कार अगले महीने राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली गतिविधियों के दौरान प्रदान किया जाएगा।

लाला जगत नारायण डीएवी मॉडल स्कूल की आठवीं की छात्रा कुसुम को राष्ट्रीय बहादुरी अवार्ड के लिए डीसी घनश्याम थोरी बधाई दी है।मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी कुसुम की हिम्मत और हौसले की प्रशंसा करते हुए पिछले साल 1 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की थी। जिला प्रशासन ने पीएपी फ्लाईओवर के नीचे कुसुम को एक ग्राफिटी भी समर्पित की है। इस पर लिखा है, बहादुरी की मिसाल।बाद में पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने भी कुसुम को नया मोबाइल फोन देने के साथ पचास हजार की वित्तीय सहायता की थी।

 

source link

नोट : उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अधिक जानकारी के लिए मुख्य संपादक से संपर्क करें