INDIA LIVING NEWS

Latest news
घोड़े की नाल का छल्ला पहने , शनि देव चमाकाएंगे किस्मत; पैसों की नहीं होगी कमी, भरी रहेगी जेब यूट्यूबर लिव-इन जोड़े ने सातवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान Loksaba Election 2024 : शिरोमणि अकाली दल ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट पंजाब सरकार एक्शन में, स्कूलों के लिए जारी कर दिए सख्त Order खालसा साजना दिवस पर माथा टेकने जा रहे श्रद्धालुयों की ट्रैक्टर ट्राली पलटी, दो लोगों की मौत Laddu Gopal : क्या आपके घर में भी हैं लड्डू गोपाल, तो इन नियमों का रखें ख़ास ख्याल सोने की कीमत पहुंची रिकॉर्ड स्तर पर, प्रति 10 ग्राम के लिए खर्चने पड़ेंगे इतने रूपए बड़ी खबर : 15 करोड़ की हैरोइन सहित कुख्यात जयपाल भुल्लर गैंग के साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार Jalandhar : AIG नरेश डोगरा की माता उषा रानी जी का हुआ देहांत, कल होगा अंतिम संस्कार Swiggy की अनोखी सर्विस, पानी पर भी शुरू की फूड डिलीवरी,श्रीनगर की डल झील में हाउसबोट पर भी लीजिये खा...
Traffic police cut challan near company Bagh Chowk in Jalandhar

जालंधर में कंपनी बाग चौक के पास नाका लगा ट्रैफिक पुलिस ने नियम तोड़ने वालों के काटे चालान


जालंधर (अनुराग ): जालंधर में यातायात नियमों की उलंगना करने व बुलेट मोटरसाइकिल पर पटाखे बजाने वालों पर शनिवार शाम को ट्रैफिक पुलिस का डंडा चला। एडीसीपी गगनेश कुमार के नेतृत्व में विशेष ट्रैफिक अभियान चलाया गया। कई जगह पर नाकाबंदी की गई और नियम तोड़ने वालों, बुलेट पर पटाखे बजाने वालों के चालान काटे गए। इस दौरान वाहनों की चेकिंग भी की गई। श्री राम चौक (कंपनी बाग चौक) के पास विशेष नाका लगाया गया। दर्जनों वाहनों की तलाशी ली गई।

वहीं यातायात नियमों को तोड़ने वाले दो पहिया वाहन चालकों को हेलमेट पहनने के लिए प्रेरित किया गया।एडीसीपी गगनेश कुमार ने बताया कि पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर के आदेशों पर यह अभियान चलाया गया है। लोगों को यातायात नियम मानने के लिए प्रेरित भी किया गया और नियम तोड़ने वालों के चालान भी काटे गए। उन्होंने बताया कि आगे भी यह अभियान जारी रहेगा।

 

source link

Disclaimer - उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अगर इस खबर से किसी वर्ग को आपत्ति है , तो वह इंडिया लिविंग न्यूज़ से संपर्क कर सकता है। www.indialivingnews.in