INDIA LIVING NEWS

Latest news
घोड़े की नाल का छल्ला पहने , शनि देव चमाकाएंगे किस्मत; पैसों की नहीं होगी कमी, भरी रहेगी जेब यूट्यूबर लिव-इन जोड़े ने सातवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान Loksaba Election 2024 : शिरोमणि अकाली दल ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट पंजाब सरकार एक्शन में, स्कूलों के लिए जारी कर दिए सख्त Order खालसा साजना दिवस पर माथा टेकने जा रहे श्रद्धालुयों की ट्रैक्टर ट्राली पलटी, दो लोगों की मौत Laddu Gopal : क्या आपके घर में भी हैं लड्डू गोपाल, तो इन नियमों का रखें ख़ास ख्याल सोने की कीमत पहुंची रिकॉर्ड स्तर पर, प्रति 10 ग्राम के लिए खर्चने पड़ेंगे इतने रूपए बड़ी खबर : 15 करोड़ की हैरोइन सहित कुख्यात जयपाल भुल्लर गैंग के साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार Jalandhar : AIG नरेश डोगरा की माता उषा रानी जी का हुआ देहांत, कल होगा अंतिम संस्कार Swiggy की अनोखी सर्विस, पानी पर भी शुरू की फूड डिलीवरी,श्रीनगर की डल झील में हाउसबोट पर भी लीजिये खा...
Farmers in Jalandhar protested against giving electricity connection to JIO's mobile tower, returning power workers from there

किसानों ने जियो और रिलायंस के टावरों की बिजली काटी, शोरूम भी करवाया बंद


पठानकोट (अनिल ): अमृतसर हाईवे पर पिछले 50 दिन से धरना लगाकर बैठे किसान संगठनों ने शनिवार को मलिकपुर में 4 टावरों के बिजली कनेक्शन काट दिए। लोक भलाई इंसाफ वेलफेयर सोसायटी के प्रदेश उपाध्यक्ष जसवंत सिंह कोठी के नेतृत्व में किसानों ने सबसे पहले डीसी दफ्तर के सामने बुड्डा नगर के जियो टावर का कनेक्शन काटा। 

उसके बाद मलिकपुर फोकल प्वाइंट स्थित रिलायंस के टावर को बंद किया, फिर सदर थाने के पास स्थित जियो के टावर और छोटी नहर के पास लगे एक जियो के एक और टावर का कनेक्शन काट दिया। इसके बाद किसानों ने पठानकोट-अमृतसर हाईवे स्थित नरोट मेहरा पुली पर जियो डिजिटल लाइफ शोरूम भी बंद करवा दिया। इस दौरान किसानों ने केंद्र सरकार और पीएम मोदी के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी की।

किसान नेता जसवंत सिंह कोठी ने कहा कि जिन टॉवरों के कनेक्शन काटे गए हैं। उनके बाहर किसानों ने पक्के नाके लगाए है। कंपनियों ने इन टावरों के कनेक्शन जोड़े तो वह बड़ा फैसला ले सकते हैं।

 

source link

Disclaimer - उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अगर इस खबर से किसी वर्ग को आपत्ति है , तो वह इंडिया लिविंग न्यूज़ से संपर्क कर सकता है। www.indialivingnews.in