INDIA LIVING NEWS

Latest news
घोड़े की नाल का छल्ला पहने , शनि देव चमाकाएंगे किस्मत; पैसों की नहीं होगी कमी, भरी रहेगी जेब यूट्यूबर लिव-इन जोड़े ने सातवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान Loksaba Election 2024 : शिरोमणि अकाली दल ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट पंजाब सरकार एक्शन में, स्कूलों के लिए जारी कर दिए सख्त Order खालसा साजना दिवस पर माथा टेकने जा रहे श्रद्धालुयों की ट्रैक्टर ट्राली पलटी, दो लोगों की मौत Laddu Gopal : क्या आपके घर में भी हैं लड्डू गोपाल, तो इन नियमों का रखें ख़ास ख्याल सोने की कीमत पहुंची रिकॉर्ड स्तर पर, प्रति 10 ग्राम के लिए खर्चने पड़ेंगे इतने रूपए बड़ी खबर : 15 करोड़ की हैरोइन सहित कुख्यात जयपाल भुल्लर गैंग के साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार Jalandhar : AIG नरेश डोगरा की माता उषा रानी जी का हुआ देहांत, कल होगा अंतिम संस्कार Swiggy की अनोखी सर्विस, पानी पर भी शुरू की फूड डिलीवरी,श्रीनगर की डल झील में हाउसबोट पर भी लीजिये खा...
Farmers are adamant against their demands, agitation continues

कृषि कानूनों के विरोध में किसान अपनी मांगों पर अड़े, प्रदर्शन लगातार जारी


नई दिल्ली (सनी ): कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली से लगती सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन रविवार को भी 10वें दिन जारी है। इस बीच बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। शनिवार को किसान संगठनों और केंद्र के बीच बातचीत का कोई ठोस नतीजा नहीं निकला। किसानों के प्रदर्शन की वजह से दिल्ली-एनसीआर की सीमाओं में लोगों को भीषण जाम का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार को किसानों ने दिल्ली-नोएडा बॉर्डर को पूरी तरह से सील कर दिया।

चिल्ला रेगुलेटर बार्डर पर धरने पर बैठे भारतीय किसान यूनियन (भानु ) से जुड़े सदस्यों ने नोएडा-दिल्ली के बीच होने वाली आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति को बाधित करने की चेतावनी दी है। धरने पर बैठें किसानों का कहना है केंद्र सरकार उनकी मांगों की लगातार अनदेखी की जा रही है। इसलिए अब उनके पास यही एक मात्र रहा है कि वह दिल्ली-नोएडा के प्रमुख बार्डर से होने वाली आवश्यक सेवा दूध, सब्जी, फल आदि की आपूर्ति को बाधित करके सरकार का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करें।

किसानों के आंदोलन को आम आदमी पार्टी (आप) लगातार समर्थन दे रही है। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने ट्वीट कर कहा कि किसान सड़कों पर आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार सुनने को तैयार नहीं है। केंद्र सरकार टालमटोल करने के बजाय किसानों की मांगों को पूरा करे। राय ने कहा कि दिल्ली की सीमा पर अन्नदाता सड़कों पर रात गुजार रहे हैं, यह ठीक नहीं है।

 

source link

Disclaimer - उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अगर इस खबर से किसी वर्ग को आपत्ति है , तो वह इंडिया लिविंग न्यूज़ से संपर्क कर सकता है। www.indialivingnews.in