INDIA LIVING NEWS

Latest news
घोड़े की नाल का छल्ला पहने , शनि देव चमाकाएंगे किस्मत; पैसों की नहीं होगी कमी, भरी रहेगी जेब यूट्यूबर लिव-इन जोड़े ने सातवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान Loksaba Election 2024 : शिरोमणि अकाली दल ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट पंजाब सरकार एक्शन में, स्कूलों के लिए जारी कर दिए सख्त Order खालसा साजना दिवस पर माथा टेकने जा रहे श्रद्धालुयों की ट्रैक्टर ट्राली पलटी, दो लोगों की मौत Laddu Gopal : क्या आपके घर में भी हैं लड्डू गोपाल, तो इन नियमों का रखें ख़ास ख्याल सोने की कीमत पहुंची रिकॉर्ड स्तर पर, प्रति 10 ग्राम के लिए खर्चने पड़ेंगे इतने रूपए बड़ी खबर : 15 करोड़ की हैरोइन सहित कुख्यात जयपाल भुल्लर गैंग के साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार Jalandhar : AIG नरेश डोगरा की माता उषा रानी जी का हुआ देहांत, कल होगा अंतिम संस्कार Swiggy की अनोखी सर्विस, पानी पर भी शुरू की फूड डिलीवरी,श्रीनगर की डल झील में हाउसबोट पर भी लीजिये खा...
Mahashya Dharmpal Gulati, owner of MDH Masala Company, died at the age of 97

MDH मसाला कंपनी के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 97 साल की उम्र में हुआ निधन


नई दिल्‍ली (अनिल ): महाशिया दी हट्टी (MDH) मसाला कंपनी के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का गुरुवार को 97 साल की उम्र में निधन हो गया। पिछले दिनों वे कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे। हालांकि, बताया जा रहा है कि उनका निधन हार्ट अटैक की वजह से हुआ। गुलाटी का जन्म 27 मार्च, 1923 को सियालकोट (पाकिस्तान) में हुआ था। उन्होंने 5वीं कक्षा की पढ़ाई पूरी की और साल 1933 में स्कूल छोड़ दी थी। 1947 में देश विभाजन के बाद वह भारत आ गए। भारत आने के वक्त उनके पास केवल 1500 रुपये थे। उन्होंने परिवार का पेट पालने के लिए तांगा भी चलाया। इसके बाद उन्‍होंने दिल्ली के करोल बाग स्थित अजमल खां रोड पर मसाले की एक दुकान खोली।

इससे पहले साल 1937 में उन्होंने अपने पिता की मदद से व्यापार शुरू किया था और उसके बाद साबुन, कपड़ा, हार्डवेयर, चावल आदि का कारोबार किया। वह आईआईएफएल हुरुन इंडिया रिच 2020 की सूची में शामिल भारत के सबसे बुजुर्ग अमीर शख्स थे। कभी कुल जमा पूंजी 1500 रुपये वाले हट्टी की दौलत आज 5400 करोड़ रुपये तक पहुंच गई है।

 

source link

Disclaimer - उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अगर इस खबर से किसी वर्ग को आपत्ति है , तो वह इंडिया लिविंग न्यूज़ से संपर्क कर सकता है। www.indialivingnews.in