INDIA LIVING NEWS

Latest news
घोड़े की नाल का छल्ला पहने , शनि देव चमाकाएंगे किस्मत; पैसों की नहीं होगी कमी, भरी रहेगी जेब यूट्यूबर लिव-इन जोड़े ने सातवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान Loksaba Election 2024 : शिरोमणि अकाली दल ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट पंजाब सरकार एक्शन में, स्कूलों के लिए जारी कर दिए सख्त Order खालसा साजना दिवस पर माथा टेकने जा रहे श्रद्धालुयों की ट्रैक्टर ट्राली पलटी, दो लोगों की मौत Laddu Gopal : क्या आपके घर में भी हैं लड्डू गोपाल, तो इन नियमों का रखें ख़ास ख्याल सोने की कीमत पहुंची रिकॉर्ड स्तर पर, प्रति 10 ग्राम के लिए खर्चने पड़ेंगे इतने रूपए बड़ी खबर : 15 करोड़ की हैरोइन सहित कुख्यात जयपाल भुल्लर गैंग के साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार Jalandhar : AIG नरेश डोगरा की माता उषा रानी जी का हुआ देहांत, कल होगा अंतिम संस्कार Swiggy की अनोखी सर्विस, पानी पर भी शुरू की फूड डिलीवरी,श्रीनगर की डल झील में हाउसबोट पर भी लीजिये खा...
India's first private train Tejas Express will be closed on two routes, know what is the reason

देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस दो रूट्स पर होंगी बंद, जानिए क्या है वजह


नई दिल्ली (सनी ): देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस इन दिनों यात्रियों की कमी का सामना कर रही है। यात्री न मिलने की वजह से दिल्ली-लखनऊ और अहमदाबाद-मुंबई के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस ट्रेनों को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया है। बता दें कि यह तेजस को इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन लिमिटेड (IRCTC) द्वारा संचालन किया जाता है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, नई दिल्ली से लखनऊ के बीच दौड़ने वाली तेजस एक्सप्रेस का ऑपरेशन आगामी 23 नवंबर से तो अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस का संचालन आगामी 24 नवंबर से बंद होगा।

इन दोनों रूटों पर चलने वाली रेलवे की अन्य ट्रेनों में यात्रियों की संख्या की समीक्षा करने के बाद आईआरसीटीसी तेजस को फिर से चलाने पर कोई फैसला करेगा।बता दें कि इस ट्रेन में कुल 736 सीटें हैं, लेकिन इस समय इसमें से केवल 25-40 फीसदी सीटें ही बुक हो रही थीं। जबकि लॉकडाउन से पहले इसमें 50 से 80 फीसदी तक सीटें बुक हो जाती थीं।

 

source link

Disclaimer - उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अगर इस खबर से किसी वर्ग को आपत्ति है , तो वह इंडिया लिविंग न्यूज़ से संपर्क कर सकता है। www.indialivingnews.in