INDIA LIVING NEWS

Latest news
घोड़े की नाल का छल्ला पहने , शनि देव चमाकाएंगे किस्मत; पैसों की नहीं होगी कमी, भरी रहेगी जेब यूट्यूबर लिव-इन जोड़े ने सातवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान Loksaba Election 2024 : शिरोमणि अकाली दल ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट पंजाब सरकार एक्शन में, स्कूलों के लिए जारी कर दिए सख्त Order खालसा साजना दिवस पर माथा टेकने जा रहे श्रद्धालुयों की ट्रैक्टर ट्राली पलटी, दो लोगों की मौत Laddu Gopal : क्या आपके घर में भी हैं लड्डू गोपाल, तो इन नियमों का रखें ख़ास ख्याल सोने की कीमत पहुंची रिकॉर्ड स्तर पर, प्रति 10 ग्राम के लिए खर्चने पड़ेंगे इतने रूपए बड़ी खबर : 15 करोड़ की हैरोइन सहित कुख्यात जयपाल भुल्लर गैंग के साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार Jalandhar : AIG नरेश डोगरा की माता उषा रानी जी का हुआ देहांत, कल होगा अंतिम संस्कार Swiggy की अनोखी सर्विस, पानी पर भी शुरू की फूड डिलीवरी,श्रीनगर की डल झील में हाउसबोट पर भी लीजिये खा...

10 हज़ार बेड का दुनिया का सबसे बड़ा कोविड-19 सेंटर राधा स्वामी सत्संग ब्यास परिसर दिल्ली में हुआ त्यार।


नई दिल्ली(AKSHEY). कोरोना के मरीजों के लिए दिल्ली रविवार को दो सेंटर शुरू किए गए। राधास्वामी सत्संग ब्यास परिसर में 10 हजार बेड वाले कोविड सेंटर का उप राज्यपाल अनिल बैजल ने उद्घाटन किया। इसका नाम सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड केयर सेंटर रखा गया है। यह कोरोना के मरीजों के लिए बनाया गया दुनिया का सबसे बड़ा सेंटर है। वहीं, दिल्ली के छतरपुर इलाके में एक हजार बेड वाले सरदार वल्लभ भाई कोविड अस्पताल का रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और गृह मंत्री अमित शाह ने उद्घाटन किया। इसे भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान (डीआरडीओ) ने तैयार किया है। 

वल्लभ भाई पटेल कोविड सेंटर बिना लक्षणों या हल्के लक्षणों वाले मरीजों के लिए क्वारैंटाइन सेंटर के तौर पर तैयार किया गया है, इसलिए इसमें वेंटिलेटर की बजाय ऑक्सीजन सुविधा है। इसमें एक हजार बेड पर ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा सकती है। यहां लक्षण वाले ऐसे कोरोना मरीजों का इलाज भी किया जाएगा, जो घर पर क्वारैंटाइन होने में सक्षम नहीं हैं। 

डीआरडीओ के सेंटर में वार्ड के नाम शहीदों के नाम पर

डीआरडीओ ने जो हॉस्पिटल तैयार किया है, उसमें 250 आईसीयू बेड हैं। इसे 11 दिन में तैयार किया गया है। इसमें अलग-अलग वार्ड के नाम गलवान वैली में शहीद हुए जवानों के नाम पर रखे गए हैं। उधर, 10 हजार बेड वाले कोविड सेंटर की देखरेख और संचालन भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के 2000 जवानों और सीआरपीएफ के हाथों में है। 

दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए बेड की कमी नहीं: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि फिलहाल दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए बेड की कमी नहीं है। कुल 15 हजार बेड है जिनमें से 5300 पर मरीजों को रखा गया है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में इस 10 हजार बेड वाले अस्पताल की सख्त जरूरत थी। अगर दिल्ली में संक्रमितों की संख्या बढ़ती है तो यह मददगार साबित होगा। उन्होंने कहा कि एक महीने पहले दिल्ली में लॉकडाउन हटाने के बाद मामले बढ़े थे, लेकिन अब स्थिति नियंत्रण में है।

Source link

Disclaimer - उक्त खबर इंडिया लिविंग न्यूज़ को सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई है। इंडिया लिविंग न्यूज़ इस खबर की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं करता। अगर इस खबर से किसी वर्ग को आपत्ति है , तो वह इंडिया लिविंग न्यूज़ से संपर्क कर सकता है। www.indialivingnews.in